Green tea kaise banaye | ग्रीन टी कैसे बनाये 2022

अपने दोस्तों के साथ शेयर करें

ग्रीन टी कैसे बनाये : नमस्कार दोस्तों आज में आपको Green tea kaise banaye इसके बारे में बताउंगी। ग्रीन टी पीने के अनेकों फायदे हैं जिनके बारे में हम आज की इस ब्लॉग पोस्ट में जानेंगे। 

जब से कोरोना आया है तब से लोग अपनी सेहत के प्रति जागरुक हो गए हैं और ग्रीन टी और काढ़ा जैसे पेय पिने लगे हैं। 

ग्रीन टी मार्किट में कई ब्रैंड्स की आती है , आप अपने अनुसार ग्रीन टी का पैकेट खरीद सकते हैं मैं आपको इसे बनाने की सही विधि बताउंगी। 

ग्रीन टी एक पानी में डीप करने वाली आती है और एक खुली चाय पत्ती वाली आती है जिसे उबाल कर बनाया जाता है।खुली पति वाली ग्रीन टी लें आये ताकि ग्रीन टी से आपको अच्छे और पुरे लाभ मिल सकें। 

जरूरी सामग्री

  • ग्रीन टी=खुले वाली
  • पानी=जरुरत अनुसार डालें
  • काले मर्चे=3-4 दाने
  • शहद=थोड़ा सा अपने अनुसार

इस तरह बनाये

image shows how to make green tea

पत्ते वाली ग्रीन टी बनाने की विधि

स्टेप 1 : गैस ऑन करके चाय का बर्तन इस पर चढ़ा लें और जरूरत अनुसार पानी डाल लीजिये और इसे तोड़ा सा हल्का गर्म होने दें। 

स्टेप 2 : पानी गर्म हो जाने पर इसमें आप खुले वाली हरी चाय पत्ति यानि ग्रीन टी डालें और साथ में पिसी हुई काली मिर्च के दानों को भी साथ में डाल ले और तोड़ा सा उबाल आने दें। 

स्टेप 3 : गैस बंद कर के बर्तन में से ग्रीन टी को छान कर अपने गिलास या कप में डालें और 1 चमच्च शहद भी इसमें डालें और चमच्च से मिक्स कर लीजिये,आपकी ग्रीन टी अब बनकर तैयार है। 

टी बैग वाली ग्रीन टी बनाने की विधि

image of green tea cup
  • एक ग्रीन टी बैग
  • गर्म पानी=1 ग्लास 
  • शहद=थोड़ा सा अपने अनुसार

स्टेप 1 : एक गिलास पानी को गर्म कर लीजिये और इसमें 1 मिनट के लिए ग्रीन टी बैग को डीप करके रखें। 

स्टेप 2 : इसके बाद टी बैग को निकाल ले और स्वादानुसार इसमें शहद मिलाएं और इसी के साथ आपकी ग्रीन टी त्यार है। 

ग्रीन Tea के प्रकार

Green tea kaise banaye तो हम जान गए हैं और यूँ तो मार्किट में बहुत से प्रकार की ग्रीन टी उपलब्ध भी है , अब हम आपको उनमें से कुछ के बारे में बताएँगे। 

यह भी पढ़े : Garadu Chaat Recipe 

  • हौजीचा Green Tea
  • माचा Green Tea
  • ग्योकुरो Green Tea
  • सेन्चा Green Tea
  • जैस्मिन Green Tea
  • कुकीचा Green Tea
  • ड्रैगन वेल Green Tea
  • मोरक्को Green Tea
  • गेन माचा Green Tea

हौजीचा Green Tea : इस ग्रीन टी की पत्तियां थोड़ी सी भूरे रंग की होती है और इसमें एंटी बैक्टीरियल प्रॉपर्टी होती है जो आपके शरीर को हानिकारक वायरस से बचाती है। 

इसमें लो लेवल कैफीन पाया जाता है और इसका फायदा यह है की आप इसे सोने से पहले पी सकते हैं। 

this is the image of hochija green tea

माचा Green Tea : आप यकीन नहीं करेंगे पर यह ग्रीन टी नशा छुड़ाने में भी काम आती है क्यूंकि इसमें क्लोरोफिल-2  की भरपूर मात्रा पाई जाती है। 

इस पेय में एमिनो-एसिड्स के साथ साथ एल-थाईनाइन भी होता है जो इसमें एक सुगंधित महक भी लाते है। 

this is image of matcha green tea

ग्योकुरो Green Tea : यह एक जापानी ग्रीन टी है और इसके अनेकों फ़ायदे हैं , इसमें एक केमिकल पाया जाता है जिसे पॉलीफिनॉल भी कहते हैं जो आपके शरीर को कैंसर जैसी घातक बिमारियों से बचाती है। 

इसका सेवन रात में नहीं करना चाहिए क्यूंकि इसमें कैफीन अधिक मात्रा में पाया जाता है , जो आपको नींद नहीं आने देता। 

image of gyokuro green tea

सेंचा Green Tea : यह भी ग्योकुरो की तरह एक जापानी फ्लेवर्ड ग्रीन टी है और इसे पिने से ब्लड शुगर लेवल लो रहता है और यह दिल की बिमारियों को भी दूर रखती है।

यह प्राकृतिक रूप से मुख की दुर्गन्ध दूर करने के उपायों में भी शामिल है। 

जैस्मिन Green Tea : इसमें ईजीसीजी पाया जाता है जो आपके शरीर को कैंसर से बचाता है।  

कुकीचा Green Tea : भी एक जापानी फ्लेवर्ड ग्रीन टी ही है और इसे चाय के पौधे के तने और शाखाओं से बनाया जाता है। 

इसमें विटामिन्स भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं और कैल्शियम जो शरीर के लिए बेहद जरूरी है उसकी कमी शरीर में होने पर कुकीचा ग्रीन टी पीने की सलाह दी जाती है। 

image of kabuscha green tea

ड्रैगन वेल Green Tea : इसके नाम से ही आपको आईडिया लग गया होगा की यह चाइनीज ग्रीन टी है। 

यह ग्रीन टि फैट बर्न करने और पतले होने में बहुत मदत करती है और साथ ही इसमें भी एंटीबैक्टीरियल प्रॉपर्टीज होती है ,

जो वायरल इन्फेक्शन और हानिकारक वायरस से हमारी रक्षा करती है। 

मोरक्को Green Tea : इसका सेवन मोरक्को के लोग आमतौर पर रोज़ाना ही करते हैं और इसे ओषधि के रूप में भी दिया जाता है। इस ग्रीन टी को मिंट यानि पुदीने की पत्तियों के साथ भीगो कर के बनाया जाता है। 

गेन माचा Green Tea : इसे गेनमाईचा नाम से भी जाना जाता है और इसमें एस्कोर्बिक एसिड , पॉलीफेनोल्स , केटेचिन जैसी एंटीऑक्सीडेंट प्रॉपर्टी भी पाई जाती है जो अनेकों बिमारियों से आपके शरीर को बचाती है। 

इसे आप अपने पास के जनरल स्टोर या फिर amazon और flipcart से भी मंगा सकते हैं। 

genmaicha green tea

ग्रीन Tea पीने के फ़ायदे

  1. ग्रीन टी वजन कम करने में बहुत ही लाभकारी सिद्ध है , इसमें एंटी ऑक्सीडेंट होते हैं जो आपके मेटाबोलिज्म को बढ़ाकर कर वजन कम करने में मदत करते हैं।       
  2. यह आपकी रोग प्रतिरोधक शक्ति को भी बढ़ाती है और आपके शरीर को बैक्टेरिआ से बचाती है।                       
  3. ग्रीन टि में एंटी डेप्रेस्सेंट प्रॉपर्टी होती है जो आपको डिप्रेशन या अपसाद जैसे बीमारियों से बचाती है।         
  4. कोलेस्ट्रॉल को कम करने में और खून के फ़्लो को नार्मल बनाये रखने में मदत करती है। 

FAQ

[sc_fs_multi_faq headline-1="h4" question-1="सुबह खाली पेट ग्रीन टी पीने के क्या फायदे हैं ?" answer-1="सुबह खाली पेट ग्रीन टी पिने से वजन घटता है और पाचन तंत्र भी मजबूत रहता है। " headline-2="h4" question-2="क्या ग्रीन टी पीने से यौन क्षमता को बेहतर किया जा सकता है ? " answer-2="ग्रीन टी से योन क्षमता कुछ हद तक बढ़ सकती है क्यूंकि यह आपके खून के फ्लो को नॉमर्ल करके रखती है।" headline-3="h4" question-3="क्या मैं सोने से पहले ग्रीन टी पी सकता हूं ?" answer-3="ग्रीन टी को रात में पीना सही नहीं है इसमें कैफीन पाया जाता है और आपको इससे नींद नहीं आएगी अगर आप सोने से पहले इसको पिएंगे। " "count="3" html="true" css_class=""]

Conclusion

आज आपने ग्रीन टी के विषय में जानकारी प्राप्त की और साथ ही अलग अलग ग्रीन टी कैसे बनाई जाती है (Green tea kaise banaye) इसके विषय में भी जाना। 

ग्रीन टी पिने के फायदे तो हमने जाने ही साथ ही अक्सर पूछे जाने वाले सवालों के जवाब भी आपको जानने को मिलें। 

मैं वैष्णवी यह आशा करती हूँ आप अब Green tea kaise banaye समझ गए होंगे , ब्लॉग पढ़ने के लिए आपका शुक्रिया। 


अपने दोस्तों के साथ शेयर करें

Leave a Comment

error: Content is protected !!